bharatkasankalp banner

महापुरुष

आइये हम सभी मिलकर सबसे पहले भारत माता के लिये

सर्वोच्च बलिदान देने वाले लगभग २ लाख महपुरुषों को याद

कर उनके सपनो के भारत निर्माण में सहभागी बनें

जीवनी

जैसा की हम सभी जानते हैं की भारत में समय समय पर अनेक राष्ट्रभक्त हुए.हमें और हमारे बच्चो को उनकी जीवनी अवश्य पढ़नी चाहिए।
ताकि उन्हें पता चल सके भारत भूमि की वीरगाथा, जिससे वह उनकी नैतिकता, आचरण,और उनके विचारो का अनुसरण कर अपना जीवन सफल कर सकें।

स्वस्थ जीवन

निरोगी काया ही सर्वोत्तम धन है

स्वस्थ जीवन शारीरिक, मानसिक और सामाजिक रूप से समृद्ध जीवन होता है। एक स्वस्थ जीवन के लिए आपको अपने शारीरिक स्वास्थ्य का खयाल रखना चाहिए। इसमें सही खानपान, व्यायाम, पर्याप्त नींद और धूम्रपान न करना शामिल होते हैं। आपको भी मानसिक स्वास्थ्य के लिए देखभाल करनी चाहिए। इसमें ध्यान देना चाहिए कि आप स्ट्रेस से दूर रहें, मनोरंजन का समय निकालें और मन को शांत रखने के लिए योग या मेडिटेशन जैसी तकनीकों का उपयोग करें। सामाजिक स्वास्थ्य के लिए आपको संबंधों को मजबूत बनाए रखना चाहिए। अच्छे दोस्तों, परिवार और समाज से जुड़े रहना आपके लिए महत्वपूर्ण है।

आयुर्वेद

भारतवर्ष औषधियों की भूमि

भारत भूमि सदा से ही वसुधेव कुटुम्बकम के सिद्धांत पर चलने वाला देश रहा है। वही भारत वर्ष को अगर हम औषधियों की खान कहें, तो यह अतिशयोक्ति नहीं होगी । .साथ ही भारत वर्ष में अलग अलग काल खंड में महान ऋषि मुनि हुए, जिन्होंने अपने खोज के जरिये और तप के बल से हम सभी को आयुर्वेद और अन्य कई पद्धतियाँ दे करके अभिभूत किया।अब हम सभी की नैतिक जिम्मेवारी बनती है ,की उनके इस उपहार स्वरुप दिव्य ज्ञान को   भारतवर्ष अपितु समस्त विश्व कल्याण हेतु जन जन तक   पहुचाएं।

महर्षि वाग्भट्ट

आयुर्वेद, अष्टांग संग्रह और अष्टांग हृदय के प्रसिद्ध ग्रंथों के लेखक। प्राचीन साहित्यकारों में यह वह व्यक्ति है, जिसने अपना परिचय स्पष्ट रूप से दिया है।

महर्षि चरक

चरक एक महर्षि और आयुर्वेद के विद्वान के रूप में प्रसिद्ध हैं। वह कुषाण साम्राज्य के शाही चिकित्सक थे। इनके द्वारा रचित चरक संहिता आयुर्वेद का प्रसिद्ध ग्रन्थ है।

महर्षि पतंजलि

प्राचीन भारत के एक महान मुनि जिनका नाम पतंजलि था . जिन्होने संस्कृत के अनेक महत्वपूर्ण ग्रन्थों कि रचना की . योगसूत्र उनकी महानतम रचना है जो योगदर्शन का मूलग्रन्थ है। महर्षि पतंजलि के तीन महत्वपूर्ण ग्रन्थ हैं , योगसूत्र,अष्टाध्यायी पर भाष्य और आयुर्वेद आयुर्वेद पर ग्रन्थ

किताबें (E Books)

मित्रो, यहाँ पर आपको महापुरुषों, आयुर्वेद, भारतीयता से सम्बंधित किताबें पढ़ने को मिलेंगी, जिनका उपयोग आप अपने ज्ञान को बढ़ाने व जीवन को और सरल बनाने हेतु कर सकते हैं, और साथ ही आपको भारत के गरिमामय इतिहास को पढ़ने में गौरव की अनुभति होगी.

भारत की नींव स्वदेसी

आज भारत के अंदर लगभग 290,000 विदेशी कम्पनिया मौजूद हैं। जिनसे भारत के लोगो का पैसा बाहर देशो में चला जाता है.
और हमारे देश की नीवं कमजोर होती चली जा रही है। जहा कभी इस देश में आज़ादी का आंदोलन स्वदेसी आधारित था। और आज भारत में 290,000 विदेशी कम्पनियो का होना कही न कही उन क्रांतिकारियों का अपमान है.
इसमें दोष सिर्फ सरकारों का नहीं अपितु हमारा भी उतना ही है. आज ही हम सभी को अपने आस पास के व्यक्ति या संस्था द्वारा बने उत्पादों का इस्तेमाल करना शुरू करना होगा।

स्वस्थ भोजन

प्राकृतिक भोजन

प्राकृतिक भोजन खाने का अनुभव, स्वाद और सेहत दोनों से होता वह समृद्ध, बिना कीटनाशकों और रसायनों के वह बढ़ता है, प्रकृति को नुकसान पहुंचाए बिना खाना वह लाभदायक होता है।

स्वच्छ भोजन

स्वच्छ भोजन हमारी सेहत के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। हमें हमेशा यह सुनिश्चित करना चाहिए कि हम अपने भोजन में स्वस्थ और साफ़ खाद्य पदार्थों का उपयोग कर रहे हैं। हमें भोजन बनाने से पहले बर्तनों का सही चुनाव और साफ-सफाई बरतने की व्यवस्था करनी चाहिए ताकि हमारा भोजन स्वच्छ और सुरक्षित हो।

दिनचर्या

अपने स्वस्थ रहने के लिए दैनिक दिनचर्या का अहम हिस्सा है। सुबह जल्दी उठने, योग अथवा व्यायाम करने, समय पर खाना खाने और रात में समय पर सोने की आदत बनाना आपके शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इसके अलावा, पर्याप्त नींद, समय पर खाना खाना, स्वस्थ आहार और तंबाकू और अल्कोहल से दूरी रखना भी आपके स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है।

जीवनियाँ पढ़ें

नए अपडेट के लिए जुड़ें क्लिक करें No thanks